Jee Mains Kya Hai in Hindi

JEE Mains Kya Hai in Hindi । Complete Detail In 5 Minutes

आइये जानते है की JEE Mains Kya Hai in Hindi संपूर्ण जानकारी 5 मिनट्स मैं| जेईई मेंस (JEE Mains) देश के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर NTA संस्था द्वारा आयोजित की जाने वाली एक संयुक्त प्रवेश परीक्षा है। इस परीक्षा को दुनिया की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है। इस परीक्षा में बैठने तथा अच्छे अंक हासिल करने के लिए विद्यार्थी को केवल अच्छे ज्ञान के साथ अच्छी प्लानिंग की आवश्यकता होती है।

अब एक एक करके इसकी सभी प्रोसेस को समझते है Jee Mains Kya Hai in Hindi मैं आपको समस्त जानकारी मिलेगी तो चाहिए शुरू करते है

JEE Mains Examination Process 

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा जेईई मेंस परीक्षा का आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर किया जाता है। इस परीक्षा के आयोजन से संबंधित विवरण निम्नानुसार है- Jee Mains Kya Hai in Hindi और इसकी एग्जाम प्रोसेस को जानते है|

  1. विभिन्न इंजीनियरिंग संस्थानों में एडमिशन के लिए आयोजित की जाने वाली पात्रता परीक्षा जेईई मेंस (JEE Mains Kya Hai in Hindi) का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाता है।
  2. यह परीक्षा मुख्य रूप से माह जनवरी तथा सितंबर के दौरान आयोजित की जाती है।
  3. वर्ष में दो बार जेईई मेंस परीक्षा आयोजित करने से विद्यार्थियों को काफी राहत मिली है। अक्सर परीक्षार्थी परीक्षा के दौरान पेपर बिगड़ जाने से मानसिक तनाव का शिकार हो जाते हैं।
  4. कई अभ्यार्थी इस प्रेसर को नहीं झेल पाने की वजह से आत्महत्या जैसे गलत कदम उठा लेते हैं।
  5. वर्ष में दो बार जेईई मेंस (JEE Mains) के पेपर आयोजित होने से अब अभ्यर्थी को घबराने की आवश्यकता नहीं है।
  6. यदि अभ्यार्थी का पहला जेईई मेंस अटेंप्ट अच्छा नहीं गया है, तो उसे सेकंड एटेम्पट में अपनी रैंक सुधरने का पूरा अवसर प्राप्त होता है।

Rafale Fighter Jet for India- Rafale Kya Hai | राफेल क्या है

JEE Mains Kya Hai in Hindi और जेईई मेंस परीक्षा का आयोजक कौन होता है

NTA जेईई मेंस परीक्षा का आयोजक कौन होता है

Jee Mains Kya Hai in Hindi: राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन हेतु पात्रता परीक्षा के आयोजन की पूरी ज़िम्मेदारी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) नामक संस्था को दी गई है। NTA द्वारा निम्न कार्यों का संपादन किया जाता है-

  1. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) माह जनवरी तथा सितंबर वर्ष में दो बार जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) परीक्षा का आयोजन करती है।
  2. NTA द्वारा परीक्षा लेने के उपरांत 1 से 2 दिवस के अंदर आंसर की तथा 10 से 12 दिवस के अंदर रिजल्ट की घोषणा की जाती है।
  3. परीक्षा लेने के उपरांत NTA द्वारा रिजल्ट की घोषणा के साथ ऑल इंडिया रैंकिंग (AIR) जारी की जाती है।
  4. अभ्यार्थी द्वारा प्राप्त AIR रैंकिंग ही काउंसलिंग के दौरान अच्छे कॉलेज में सीट अल्लोटमेंट का मुख्य आधार होती है। 

अभ्यार्थी NTA की वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर जाकर JEE Mains[JEE Mains Kya Hai in Hindi] के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Importance of Life Insurance in Hindi | जीवन बीमा का महत्त्व क्या है?

जेईई मेंस के लिए योग्यता | Qualification For JEE Mains 

जेईई मेंस परीक्षा में शामिल होने से पूर्व अभ्यर्थी को एनटीए द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को ध्यान पूर्वक पढ़ना चाहिए। आइये जानते हैं, जेईई मेंस (JEE Mains in Hindi) की परीक्षा में शामिल होने के लिए एनटीए द्वारा निर्धारित योग्यताएं निम्नानुसार हैं-

  1. 10वीं तथा 12वीं परीक्षाएं उत्तीर्ण होना चाहिए।
  2. 12वीं की परीक्षा में अभ्यर्थी द्वारा मुख्य रूप से दो लैंग्वेज विषय के अलावा फ़िज़िक्स तथा मैथमेटिक्स के साथ तीसरे विषय के तौर पर केमिस्ट्री, बायो-टेक्नोलॉजी, बॉयोलॉजी अथवा अन्य टेक्निकल सब्जेक्ट में से कोई एक होना चाहिए।
  3. किसी भी ट्रेड में डिप्लोमा धारक उम्मीदवार को इस परीक्षा के लिए पात्र समझा गया है, लेकिन डिप्लोमा धारक उम्मीदवार को केवल आईआईटी कॉलेज में ही प्रवेश की पात्रता है।
  4. इसके अलावा ऐसे आवेदक जो परीक्षा आयोजन वर्ष के दौरान 12वीं की परीक्षा में शामिल हो रहा हो, उसे भी जेईई मेंस (JEE Mains Kya Hai) परीक्षा में समिलित होने हेतु पात्र समझा गया है।
  5. अभ्यार्थी को 12वीं में जनरल केटेगरी के लिए 75%, एसटी तथा एससी के लिए 65% अंक लाना अनिवार्य किया गया है।

Amazon Seller Kaise Bane? अमेज़न पर सामान कैसे बेचते हैं?

JEE Mains Kya Hai | इसमें आवेदन कैसे करें?

Jee Mains Kya Hai: जेईई मेंस में अपना रजिस्ट्रेशन करने के लिए एनटीए द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करना चाहिए । इसके बाद अभ्यार्थी को एनटीए की वेबसाइट पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करना होता है। जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai) परीक्षा के लिए आवेदन ऑनलाइन माध्यम से जमा किये जाते हैं। इसके लिए अभ्यार्थी को निम्न स्टेप्स फॉलो करने होते हैं-

  1. सर्वप्रथम नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की वेबसाइट पर जाएँ।
  2. जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन होने पर चाही गयी जानकारी भरें।
  3. अपना वास्तविक मोबाइल नंबर तथा ईमेल आईडी वेरीफिकेशन के साथ दर्ज करें।
  4. दिनांक तथा नाम अंकित वाला नवीन पासपोर्ट फोटो तथा हस्ताक्षर अपलोड करें।
  5. अपनी मार्कशीट तथा आधार कार्ड ऐड्रेस वेरीफिकेशन हेतु आवेदन के साथ अपलोड करें।
  6. यदि अभ्यर्थी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के दौरान कोई त्रुटी करता है, तो उसे त्रुटी सुधार के लिए अलग से 7 से 10 दिन का समय दिया जाता है।
  7. आवेदक अपनी कैटेगरी के अनुसार परीक्षा शुल्क जमा करें।
  8. अंत में अभ्यार्थी को रजिस्ट्रेशन फॉर्म सबमिट करने के बाद आवेदन का जेईई मेंस (Jee Mains in Hindi) रजिस्ट्रेशन फॉर्म का प्रिंट आउट अपने पास सुरक्षित रख लेना चाहिए।

Loco Pilot Kise Kahte Hai | लोको पायलट किसे कहते हैं?

JEE Mains रजिस्ट्रेशन के लिए जरूरी निर्देश

जेईई मेंस में अपना रजिस्ट्रेशन करने के पहले अभ्यार्थी को कुछ निर्देशों के बारे में भली-भांति जान लेना चाहिए। निचे कुछ निर्देश दिए गए हैं, जिन्हें जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) रजिस्ट्रेशन के दौरान याद रखना चाहिए-

  1. अभ्यार्थी द्वारा एक सत्र की परीक्षा के लिए केवल एक ही बार अपना रजिस्ट्रेशन करना चाहिए।
  2. यदि एक से अधिक बार अभ्यर्थी द्वारा अपना रजिस्ट्रेशन किया जाता है, तो अभ्यार्थी के सभी रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिए जायेंगे।
  3. अप्रैल सत्र के रजिस्ट्रेशन के लिए माह फरवरी से मार्च के बीच में आवेदन भरे जाते हैं।
  4. इसी प्रकार द्वितीय सत्र के लिए जुलाई से अगस्त के बीच में रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया हेतु आवेदन पत्र भरे जाते हैं।
  5. सभी फॉर्मेलिटी पूर्ण करने के पश्चात आवेदक को ऑनलाइन माध्यम से ही रजिस्ट्रेशन फ़ीस जमा करनी चाहिए।
  6. रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के दौरान अभ्यार्थी को भविष्य के सभी क्रिया-क्लाप जैसे एडमिट कार्ड डाउनलोड, रिजल्ट सर्च, आदि हेतु यूज़र आई डी तथा पासवर्ड प्राप्त होता है। इस यूजर आई डी को अपने पास सुरक्षित रखना चाहिए।

Documents for Jee Mains in Hindi | जेईई मेंस आवश्यक दस्तावेज

Jee Mains Kya Hai in Hindi: सभी अभ्यार्थी जो जेईई मेंस परीक्षा के लिए आवेदन करना चाहते हैं। उन्हें आवेदन फार्म भरने के दौरान अपने साथ निम्न दस्तावेज़ों को रखना चाहिए-

  1. पासपोर्ट साइज फोटो।
  2. स्कैन 10वीं तथा 12वीं की अंकसूची।
  3. पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड/वोटर आईडी/पासपोर्ट आदि।
  4. स्कैन किए गए हस्ताक्षर।
  5. अपकी ईमेल आईडी।
  6. वेरीफाइड मोबाइल नंबर।

5 मिनट मै SBI Net Banking Kaise Kare in Hindi [Step by Step]

अभ्यार्थी द्वारा स्कैन की जाने वाली सामग्री निचे दिए गए साइज़ के अनुसार होनी चाहिए-

JEE Mains Documents फाइल साइज़-

दस्तावेज़ फाइल का आकारफाइल का Size 
पासपोर्ट फोटो 3.5Cm से 4.5Cm10Kb से 200Kb
हस्ताक्षर 3.5Cm से 1.5Cm04Kb से 30Kb
एजुकेशन  सर्टिफ़िकेट 50Kb से 500Kb
Jee Mains in Hindi

सभी इमेज़ेस JPG/JPEG फ़ॉर्मेट में होनी चाहिए। इसके अलावा सभी डाक्यूमेंट्स PDF फॉर्मेट में होने चाहिए।

जेईई मेंस शुल्क | JEE Mains Fee Structure

जेईई मेंस (Jee Mains in Hindi) परीक्षा में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों को एनटीए द्वारा निर्देशित परीक्षा शुल्क जमा करना अनिवार्य है। परीक्षा शुल्क जमा करने के उपरांत आपका आवेदन कंप्लीट माना जाएगा विभिन्न कैटेगरी वाइज़ आवेदन शुल्क निम्नानुसार है।

भारत में स्थित परीक्षा केन्द्रों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस-

Categoryकेवल JEE Mains (B.E./B.Tech) पेपर 1 अथवा JEE Mains (B. Arch/B.Planning) पेपर 2 के लिए JEE Mains के दोनों पेपर (पेपर 1 तथा पेपर 2) के लिए
सामान्य For Boys  650/-
For Girls  325/-
For Boys  1300/-
For Girls  650/-
ओबीसी For Boys  650/-
For Girls  325/-
For Boys  1300/-
For Girls  650/-
एससी/एसटी 325/-(Common)650/-(Common)
विकलांग/ ट्रांसजेंडर 325/-(Common)650/-(Common)
Jee Mains Kya Hai in Hindi

विदेश में स्थित परीक्षा केन्द्रों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस-

Categoryकेवल JEE Mains (B.E./B.Tech) पेपर 1 अथवा JEE Mains (B. Arch/B.Planning) पेपर 2 के लिए JEE Mains के दोनों पेपर (पेपर 1 तथा पेपर 2) के लिए
सामान्य For Boys  3000/-
For Girls  1500/-
For Boys  6000/-
For Girls  3000/-
ओबीसी For Boys  3000/-
For Girls  1500/-
For Boys  6000/-
For Girls  3000/-
एससी/एसटी 1500/-(Common)3000/-(Common)
विकलांग/ ट्रांसजेंडर 1500/-(Common)3000/-(Common)
Jee Mains Kya Ha
Jee Mains in Hindi
Jee Mains in Hindi

JEE Mains Fees Payment

अभ्यार्थी को जेईई मेंस(Jee Mains Kya Hai in Hindi) रजिस्ट्रेशन फॉर्म कम्पलीट करने के बाद आख़िरी स्टेज पर रजिस्ट्रेशन फ़ीस का पेमेंट करना होता है । अभ्यार्थी अपनी केटेगरी अनुसार रजिस्ट्रेशन फ़ीस का भुगतान निम्न माध्यमों से कर सकता है-

  1. Online
  2. Offline
  3. E-Challan

1. Online

अभ्यर्थी ऑनलाइन माध्यम से एप्लीकेशन फ़ीस का भुगतान करना चाहता है, तो उसे नेट बैंकिंग, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, आदि  में से किसी एक सुविधा का प्रयोग करना चाहिए।

2. Offline

ऑफ-लाइन माध्यम से अभ्यार्थी SBI के ई-चालान से अपनी फ़ीस का भुगतान कर सकते हैं। ई-चालान से भुगतान के लिए निम्न प्रक्रिया अपनाई जा सकती है।

3. E-Challan से भुगतान की प्रक्रिया-

  • SBI mops पेज पर जाएँ तथा A4 साइज पर चालान का प्रिंट लें।
  • ई-चालान में अभ्यर्थी का बैंक रेफरेंस नंबर तथा विवरण मौजूद होना चाहिए।
  • प्रिंट-आउट के 12 घंटे के अंदर SBI ब्रांच में जाकर चालान तथा फ़ीस जमा करें।
  • फ़ीस जमा करने के बाद ई-चालान का रिप्रिंट SBI के पोर्टल में MOPS टैब पर क्लिक कर प्राप्त करें।

Voter ID Card Ke Liye Online Apply Kaise Kare हिंदी मैं |

JEE Mains का password कैसे रिकवर करें?

यदि कोई अभ्यर्थी JEE Mains रजिस्ट्रेशन के दौरान जनरेट किए गए अपने पासवर्ड को भूल जाता है, तो वह निम्न स्टेप्स के माध्यम से अपना पासवर्ड फिर से रिजनरेट कर सकता है-

  1. अभ्यार्थी लॉग-इन विंडो ओपन करें।
  2. I can’t access my account पर क्लिक करें।
  3. I forget my password का चयन करें।
  4. अभ्यार्थी को तीन विकल्प प्राप्त होंगे अपने पासवर्ड को रिसेट करने के लिए इनमें से किसी एक का चयन करें।
  1. सिक्योरिटी सवाल।
  2. मोबाइल नंबर पर ओटीपी द्वारा वेरिफिकेशन।
  3. रजिस्टर्ड ईमेल द्वारा रिसेट लिंक प्राप्त करना।

इनमें से किसी एक माध्यम से अभ्यार्थी अपनी पहचान वेरीफाई करने के बाद अपना नया पासवर्ड रिसेट करें।

JEE Mains का एप्लीकेशन नंबर कैसे रिकवर करें?

यदि अभ्यार्थी अपना जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) एप्लीकेशन नंबर भूल जाता है, तो वह निम्न स्टेप्स के माध्यम से अपना एप्लीकेशन नंबर रिकवर कर सकता है-

  • अभ्यार्थी लॉग-इन विंडो ओपन करें।
  • I can’t access my account पर क्लिक करें।
  • I forgot my JEE Main application form number पर क्लिक करें।
  • नवीन खुले हुए फॉर्म में चाही गई जानकारी दर्ज करें।
  • फॉर्म को सबमिट करने के बाद अभ्यार्थी को अपना एप्लीकेशन नंबर प्राप्त हो जाएगा।

JEE Mains परीक्षा की विशेषतायें | JEE Mains Features

इंजीनियरिंग कॉलेजों में सीधे तौर पर एडमिशन की पात्रता के लिए आयोजित की जाने वाली जेईई मेंस परीक्षा की निम्न विशेषताएँ हैं-

  1. जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai) परीक्षा का आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर किया जाता है।
  2. जेईई मेंस परीक्षा में अच्छे अंक हासिल करने वाले अभ्यार्थी को देश के प्रतिष्ठित संस्थान जैसे नेशनल इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (NIT), सीएफटीआईएस तथा अन्य प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग संस्थानों में एडमिशन की पात्रता प्राप्त होती है।
  3. जेईई मेंस (Jee Mains in Hindi) परीक्षा अच्छी रैंक के साथ पास करने वाले अभ्यार्थी को जेईई एडवांस परीक्षा में बैठने का अवसर प्राप्त होता है।
  4. जेईई मेंस तथा जेईई एडवांस परीक्षाओं में अच्छी रैंक लेन वाले भाग्यशाली अभ्यार्थी को देश के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग संस्थान Indian Institute of Technology (IIT) में एडमिशन प्राप्त होता है।

जेईई मेंस परीक्षा का परिणाम | JEE Mains Exam Result

माह जनवरी तथा सितंबर के दौरान जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai) परीक्षा का आयोजन वर्ष में दो बार किया जाता है। परीक्षा उपरांत निम्न गतिविधियाँ संचालित की जाती हैं-

  1. जेईई मेंस परीक्षा के आयोजन के पश्चात अगले 1 से 2 दिनों के अंदर ही Answer Key, NTA द्वारा जारी कर दी जाती है।
  2. जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) परीक्षा के आयोजन के 10 से 12 दिनों के अंदर ही ऑनलाइन रिजल्ट जारी किया जाता है।
  3. रिजल्ट जरी होने के पश्चात अभ्यार्थी अपना रिजल्ट तथा स्कोर कार्ड एनटीए की वेबसाइट पर देख सकते हैं।
  4. इस वर्ष माह सितम्बर 2020  में आयोजित की गई जेईई मेंस 2020 के दुतीय सत्र का परीक्षा परिणाम 11 सितंबर 2020 को जारी किया जा चुका है।
  5. Jee Mains परीक्षा के परिणाम के साथ ही वास्तविक अंक तथा रैंक की जानकारी हेतु अभ्यर्थियों के स्कोर कार्ड भी जारी किये जाते हैं।

जेईई मेंस परीक्षा 2020 के परिणाम देखने के लिए यहां क्लिक करें

English Bolna Sikhna Hai Kaise Sikhe- रातों रात इंग्लिश बोलना सीखे

JEE Mains की Counselling कैसे होती है

JEE Mains
JEE Mains की Counselling कैसे होती है

अभ्यार्थी को यदि अच्छे कॉलेज के चाह है, तो उसे जेईई मेंस (Jee Mains in Hindi) परीक्षा के उपरांत काउंसलिंग अटेंड करने के लिए अपने आप को रजिस्टर्ड करना होता है।

काउंसलिंग के दौरान ही रैंक के आधार पर कॉलेज तथा सीट का आवंटन किया जाता है। काउंसलिंग प्रक्रिया के मुख्य बिंदु निम्नानुसार हैं-

  1. काउंसलिंग में आने वाले अभ्यर्थियों को जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai) परीक्षा में कट ऑफ लिस्ट या उससे अधिक अंक लाने आवश्यक हैं।
  2. इन्हीं अंकों के आधार पर ही अभ्यर्थी जेईई मेंस की काउंसलिंग के लिए पात्र समझा जाता है।
  3. जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर ही काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लेने हेतु आवेदन करना चाहिए।
  4. जेईई मेंस की परीक्षा में बैठने वाले अभ्यर्थियों के लिए मुख्य रूप से JOSSA नामक संस्था द्वारा काउंसिलिंग आयोजित की जाती है।
  5. काउंसलिंग के माध्यम से कॉलेजों का आवंटन छात्रों द्वारा प्राप्त अंक तथा कुल सीटों की संख्या पर निर्भर करता है।
  6. काउंसलिंग प्रक्रिया में हिस्सा लेने वाले अभ्यार्थी को अपने साथ वांछनीय प्रमाण पत्र व उनकी फोटो-कॉपी का एक सेट डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए ले जाना चाहिए।
  7. यदि अभ्यर्थी द्वारा काउंसलिंग प्रक्रिया के दौरान डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन नहीं कराए जाते हैं, तो उन्हें कॉलेज आवंटित नहीं किया जाएगा।
  8.  वर्ष 2020 में आयोजित की जाने वाली काउंसलिंग प्रक्रिया ऑनलाइन आयोजित की जाएगी। अब अभ्यार्थी को ऑनलाइन माध्यम से काउंसलिंग के लिए अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा।
  9. वर्ष 2020 में आयोजित की जाने वाली काउंसलिंग 6 अक्टूबर 2020 से प्रारंभ की जाएगी।

जेईई मेंस 2020 के परिणाम के आधार पर JOSSA Counselling के लिए क्लिक करें

जेईई मेंस 2020 के परिणाम के आधार पर IPU CET Counselling के लिए क्लिक करें

जेईई मेंस काउंसलिंग आप्शन | JEE Mains Counselling Options

Jee Mains Kya Hai in Hindi: जेईई मेंस की परीक्षा का रिजल्ट आने के बाद देश के प्रतिष्ठित कॉलेजों में एडमिशन के लिए काउंसलिंग प्रक्रिया का आयोजन किया जाता है। जेईई मेंस के रिजल्ट के आधार पर अभ्यर्थियों द्वारा निम्नलिखित काउंसलिंग अटेंड की जा सकती है-

  1. JOSAA Counselling Seat Allocation
  2. Haryana Engineering Admission
  3. Chandigarh Admission Joint Admission Committee Chandigarh
  4. IIT Hyderabad B Tech Admission International Institute of Information Technology Hyderabad B Tech Admission
  5. WBJEE Counselling
  6. Punjab Engineering Admission Counselling & College Allotment
  7. Uttarakhand Engineering Admission
  8. Madhya Pradesh BE Admission
  9. Maharashtra CAP All India Counselling
  10. Chhattisgarh PET Counselling
  11. CSAB, Central Seat Allocation Board
  12. IPU CET Counselling

जेईई मेंस अटेंम्पट लिमिट | JEE Mains Attempt Limits

जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai in Hindi) परीक्षा में भाग लेने वाले अभ्यार्थी को केवल तीन चांस NTA द्वारा प्रदान किये गए हैं। इसका मतलब यह है, कि अभ्यार्थी केवल 3 सत्र में ही जेईई मेंस की परीक्षा में बैठ सकता है। 

  1. NTA द्वारा वर्ष में दो बार जेईई मेंस (Jee Mains Kya Hai) परीक्षा का आयोजन किया जाता है।
  2. वर्ष में 2 बार परीक्षा का आयोजन करने के बाद भी दोनों सेशन को मिलाकर एक ही सत्र में काउंट किया जाता है।
  3. वर्ष के दोनों सत्रों में भाग लेने वाले अभ्यर्थी की रैंकिंग के लिए सर्वाधिक अंक हासिल किए गए सत्र को चुना जाता है।
  4. NTA द्वारा जेईई मेंस परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए अधिकतम आयु सीमा का निर्धारण नहीं किया गया है।
  5. NTAके दिशा-निर्देशानुसार अभ्यार्थी को एक सत्र में केवल एक आवेदन ही भरना चाहिए, अन्यथा अभ्यार्थी का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जायेगा।

Conclusion

Jee Mains Kya Hai in Hindi: जेईई मेंस (JEE Mains) परीक्षा अपने आप में एक बहुत बड़ी परीक्षा है। इस परीक्षा को दुनिया भर में ख्याति प्राप्त है। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने अभ्यार्थी को JEE Mains परीक्षा से संबंधित लगभग सभी समस्याओं का हल बताने की कोशिस की है। उम्मीद है, यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा तथा आपको इससे काफी मदद मिली होगी।

Give a Comment