Life Insurance Policy

Top 7 Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein [संपूर्ण जानकारी]

आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको टॉप 7 Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein देंगे। दोस्तों आजकल के भाग दौड़ भरी जिंदगी में हर किसी के लिए अपने जीवन को स्वस्थ बनाना और सुरक्षित बनाना बहुत ही जरूरी हो गया है। क्योंकि अब समय ऐसा आ गया है कि किस पल क्या हो जाए, किसी को नहीं पता। परंतु ऐसी बहुत सारी सुविधाएं हैं जिसमें आप के ना रहने पर आपके परिवार वालों को उतनी ही सुरक्षा मिलती है जितनी आप के रहने पर उन्हें होती है। जी हां, आज हम बात करने वाले हैं एलआईसी पॉलिसी के बारे में।

जिसे करवाने के बाद आपका परिवार और आप दोनों अपनी जिंदगी को लेकर कहीं हद तक सुरक्षित हो जाते हैं। Life Insurance करवाने के बाद अगर आप अपने परिवार में एक मात्र ऐसे इंसान हैं जो कमाते हैं और आपके जाने के बाद उनका पीछे से कोई सहारा नहीं है। तो Life Insurance करवाने के बाद कुछ हद तक आपके परिवार को राहत मिलती है।

Top 7 Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein
Top 7 Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein

यह Life Insurance बहुत तरह के होते हैं जैसे कि इसके अंदर कुछ पॉलिसी ऐसी भी होती है जो कवर के साथ-साथ निवेश के जरिए रिटर्न में भी आपकी सहायता करते हैं। आज हम आपको 7 तरह के Life Insurance पॉलिसी बताने जा रहे हैं जिसे पढ़ने के बाद आप अपने जरूरत के हिसाब से उसे चुन सकते हैं।

Check: Apollo Munich Health Insurance in Hindi with 7 Benefits

Top 7 Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein

  1. टर्म इंश्योरेंस प्लान | Term Insurance Plan
  2. एंडोमेंट पॉलिसी | Endowment policy
  3. मनीबैक इंश्योरेंस पॉलिसी | Moneyback insurance policy
  4. आजीवन लाइफ इंश्योरेंस | Lifelong life insurance
  5. यूलिप (यूनिट लिंक्ड बीमा योजना) | ULIP (Unit Linked Insurance Scheme)
  6. रिटायरमेंट प्लान | Retirement plan
  7. चाइल्ड इंश्योरेंस पॉलिसी | Child insurance policy

Check: Religare Health Insurance in Hindi [रेलिगेयर हेल्थ इंश्योरेंस]

1. टर्म इंश्योरेंस प्लान | Term Insurance Plan

सबसे पहले बात करते हैं टर्म इंश्योरेंस प्लान की तो इस प्लान को आप 10 या फिर 20 या 50 साल यानी कि एक निश्चित समय तक खरीद सकते हैं। इस प्लान के अंदर आपने जो भी 10 या एक निश्चित अवधि चुनी होगी उसके हिसाब से आपको कवरेज मिलता है।  इस Life Insurance पॉलिसी के अंदर आपको मेच्योरिटी बेनिफिट नहीं मिलता है।

यह किसी भी तरह की शेविंग प्रॉफिट कंपोनेंट के बिना ही आपको लाइफ कवर कि सुविधा देती है। यह बात अलग है कि यह जितनी भी पॉलिसी है उनसे सबसे सस्ती पॉलिसी होती है और सबसे बड़ी बात यह है कि इस पॉलिसी के अंदर अगर पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है। तो जो भी एक तय रकम पॉलिसी कराते समय की गई थी वह रकम बेनिफिशियर को दे दी जाती है।

Check: Top 5 Types of Life Insurance in Hindi | जीवन बीमा के प्रकार

2. एंडोमेंट पॉलिसी | Endowment Life Insurance Ki Jankari

जो व्यक्ति एंडोमेंट पॉलिसी करवाते हैं वह इस पॉलिसी के अंदर बीमा और निवेश दोनों तरह का फायदा पाते हैं। इस पॉलिसी के अंदर एक निश्चित समय तक रिस्क कवर दिया जाता है और जैसे ही वह समय खत्म होता है उसके खत्म होने के बाद बोनस के साथ-साथ एश्योर्ड सम पॉलिसी धारक को वापस मिल जाता है। Endowment Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein पूरी मिलेगी

एंडोमेंट पॉलिसी | Endowment Life Insurance Ki Jankari
एंडोमेंट पॉलिसी | Endowment Life Insurance Ki Jankari

जिस व्यक्ति ने पॉलिसी करवाई है अगर उसकी मृत्यु हो जाती है या फिर जो भी समय निर्धारित किया गया है वह समय खत्म हो जाने के बाद एंडोमेंट पॉलिसी के अंदर पॉलिसी अमाउंट की फेस वैल्यू का भुगतान भी किया जाता है। इसमें से कुछ पॉलिसी ऐसी भी होती है जो गंभीर बीमारी में भी भुगतान करने के लिए सहमत होती है।

Check: The Importance of Health Insurance | स्वास्थ्य बीमा का महत्व

3. मनीबैक इंश्योरेंस पॉलिसी | Moneyback insurance policy

Top 7 Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein Moneyback insurance policy तीसरे नंबर पर आता है| इस पॉलिसी को भी आप एक तरह से एंडोमेंट पॉलिसी कह सकते हैं। क्योंकि इस पॉलिसी के अंदर आप निवेश और बीमा दोनों तरह का मेल देखने को पाते है। बस फर्क इतना होता है कि इस Life Insurance पॉलिसी में जो भी निर्धारित समय निश्चित किया जाता है। उन्हें समय के बीच में जो भी पॉलिसी की बोनस रकम होगी किस्तों में दे दी जाती है

मनीबैक इंश्योरेंस पॉलिसी | Moneyback insurance policy
मनीबैक इंश्योरेंस पॉलिसी | Moneyback insurance policy

और आखिरी किस्त पॉलिसी के खत्म होने के बाद मिलते हैं। और ऐसे में अगर पॉलिसी करने वाले पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो इस पॉलिसी के टर्म एंड कंडीशन के हिसाब से पूरा एश्योर्ड सम बेनिफिशियर को दे दिया जाता है। यह बात अलग है कि इस पॉलिसी के अंदर प्रीमियम सबसे ज्यादा होता है।

Check: Importance of Life Insurance in Hindi | जीवन बीमा का महत्त्व क्या है?

4. आजीवन लाइफ इंश्योरेंस | Lifelong life insurance

Lifelong life Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein: जैसा कि आपने ऊपर नाम पढ़ ही लिया है यह नाम के हिसाब से यह पॉलिसी भी काम करती है। यह पॉलिसी का नाम है आजीवन Life Insurance यानी कि आपको जिंदगी भर इस पॉलिसी को करवाने पर प्रोटेक्शन मिलता रहता है। इस पॉलिसी के अंदर कोई भी टाइम नहीं होता है पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाने के बाद जो भी नॉमिनी होता है वह इस बीमा को क्लेम कर सकता है और उसे इस बीमा की रकम भी मिलती है।

आजीवन Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein| Lifelong life insurance Image Credit: Link

अभी तक हमने जितनी भी पॉलिसी के बारे में पढ़ा। उसकी एक उम्र या फिर मैक्सिमम लिमिट होती है और अगर आम भाषा में कहा जाए तो 65 से 70 साल तक कि उसकी लिमिट होती है। उसके बाद अगर पॉलिसी धारक की मृत्यु होती है तो नॉमिनी डेथ क्लेम नहीं ले सकता है। परंतु आजीवन Life Insurance के अंदर अगर पॉलिसी धारक की मृत्यु 95 साल के बाद ही क्यों ना हो उसके बाद भी नॉमिनी क्लेम कर सकता है

और इसी वजह से इस पॉलिसी की प्रीमियम भी सबसे ज्यादा रहता है। इस पॉलिसी के तहत पॉलिसीधारक के पास इंश्योर्ड सम को आंशिक रूप से विदड्रॉ करने का विकल्प रहता है. इसके अलावा वह पॉलिसी के एवज में पैसा लोन के तौर पर भी ले सकता है. चलिए आगे ULIP Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein संपूर्ण जानकारी लेते हैं|

Check: म्यूचुअल फंड क्या है, इन हिंदी-म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें

5. यूलिप (यूनिट लिंक्ड बीमा योजना) | ULIP (Unit Linked Insurance Scheme)

इस प्लान के अंदर भी आपको प्रोटेक्शन और निवेश दोनों तरह का प्लान देखने को मिलेगा। जैसा कि आपने पहले पढ़ा है कि एंडोमेंट इंश्योरेंस पॉलिसी और मनी बैक पॉलिसी के अंदर रिटर्न एक हद तक पक्का माना जाता है। वहीं इस यूलिप में आपको रिटर्न मिलेगा कि नहीं मिलेगा इसकी कोई गारंटी नहीं दी जाती है। इसी की वजह से यूलिप में लोग निवेश वाले हिस्से को बांड और शेयर में लगाना ज्यादा पसंद करते हैं।

ULIP (Unit Linked Insurance Scheme): Image Link- Click

और म्यूचुअल फंड की तरह यह आपको यूनिट प्रदान करता है। और यह सब रिटर्न मार्केट में जो उतार-चढ़ाव होता है उसके बेस पर निर्धारित किया जाता है। इसमें एक फायदा यह भी है कि इसमें आप खुद तय कर सकते हैं कि आप अपना कितना पैसा शेयर बाजार में लगाना चाहते हैं और कितना पैसा अब बॉन्ड में लगाना चाहते हैं।

Read: Cancel Cheque Kya Hai । 8 Use of Cancelled Cheque in Hindi

6. रिटायरमेंट प्लान | Retirement plan

इस प्लान के अंदर लाइफ इंश्योरेंस(Retirement plan Life Insurance Ki Jankari) का किसी भी तरह का कोई कवर नहीं मिलता है क्योंकि यह एक रिटायरमेंट सलूशन प्लान बनाया गया है। इसके अंदर आप अपने रिस्क का अंदाजा लगाकर एक रिटायरमेंट फंड बना सकते हैं। निश्चित की गई अवधि के बाद आपको या फिर आपने जिनको नॉमिनेट किया है उनको पेंशन के तौर पर एक निश्चित राशि दे दी जाएगी। यह राशि मासिक, छमाही या सालाना के आधार पर दी जाएगी।

Retirement plan Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein | रिटायरमेंट प्लान: Image Credit: Link

7. चाइल्ड इंश्योरेंस पॉलिसी | Child insurance policy

Child insurance policy Life Insurance Ki Jankari: चाइल्ड इंश्योरेंस पॉलिसी जैसा कि नाम से ही पता चलता है यह पॉलिसी बच्चों के भविष्य को सुरक्षा प्रदान करती है यह प्लान बच्चों की शिक्षा के खर्च और उनकी जो भी जरूर होते हैं यानी कि उनके जो भविष्य में शिक्षा को लेकर जरूरतें हैं। उनके हिसाब से डिजाइन किया गया है। चाइल्ड प्लान पॉलिसी के अंदर पॉलिसी धारक की जब मृत्यु हो जाती है उसके बाद जो भी रकम निर्धारित की जाती है।

चाइल्ड इंश्योरेंस पॉलिसी | Child insurance policy Life Insurance Ki Jankari: Image Credit: Link

उसका भुगतान किया जाता है परंतु भुगतान करने के बाद भी पॉलिसी खत्म नहीं होती है बल्कि उसकी जगह भविष्य के जितने भी प्रीमियम होते हैं उसको माफ कर दिया जाता है और इंश्योरेंस कंपनी पॉलिसी धारक की ओर से निवेश अपनी तरफ से जारी रखती है और बच्चों को एक निश्चित समय तक पैसा उनकी शिक्षा के लिए मिलता रहता है। आपको Life Insurance Ki Jankari Hindi Mein जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट मैं बताये|

Give a Comment