Importance of Health Insurance

The Importance of Health Insurance | स्वास्थ्य बीमा का महत्व

Needs and Importance of Health Insurance| हेल्थ इन्शुरन्स के फायदे: बीमारी कभी भी बता कर नहीं आती और जब हमें या फैमिली में किसी मेंबर को कोई बीमारी होती है तो हमारी सबसे पहले यही कोशिश होती है की हमें अच्छे से अच्छा ट्रीटमेंट मिले, पर कई बार बीमारियों पर होने वाला खर्च इतना अधिक होता है। की हमें फ़ाइनेंशियल प्रॉब्लम का सामना करना पड़ता है और इलाज भी ठीक से नहीं हो पाता।

इन सब परेशानियों से बचने और जरुरत पढने पर बेस्ट ट्रीटमेंट लेने के लिए ज़रुरी है की स्वास्थ्य बीमा का सहारा लिया जाए। क्या क्यों कैसे के इस आर्टिकल में हम जानेंगे हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी बेनिफिट्स इन हिंदी। जाने स्वस्थ और सेहतमंद रहने का राज

Health Insurance Kya Hai | स्वास्थ्य बीमा क्या है

हेल्थ इन्शुरन्स एक स्वास्थ्य बीमा(Importance of Health Insurance) होता है जो आप की बीमारियों के ट्रीटमेंट पर होने वाले खर्चे को कवर करता है, जिसमे आप हर साल कुछ पैसे इन्शुरन्स कंपनी को देते है जिसे प्रीमियम कहते है।

स्वास्थ्य बीमा २ पारकर का होता है, पहला इंडिविजुअल जिसमे हर व्यक्ति का बीमा अलग से होता है और दूसरे है फॅमिली का जिसमे परिवार के सभी मेंबर्स का बीमा एक साथ होता है।

स्वास्थ्य बीमा के फायदे | Benefits of Health Insurance

सवास्थ्य बीमा क्यों करना चहिये| आइये उदाहरण के साथ समझते है की स्वास्थ्य बीमा के फायदे या Benefits of Health Insurance के क्या क्या फायदे है|

Benefits of Health Insurance
स्वास्थ्य बीमा के फायदे
  1. आज के समय में बीमारियों के इलाज पर होने वाला खर्च बहुत बढ़ गया है और कुछ बीमारिया तो ऐसी होती है जिसका ट्रीटमेंट करवाने हमारी पहुँच से बहार हो जाता है। ऐसे में आपको हेल्थ इन्शुरन्स(Importance of Health Insurance) मदद कर सकता है। अगर आपके पास हेल्थ इन्सुरनेन्स पालिसी है तो आपकी बीमारी के इलाज पर होने वाला खर्चा इन्शुरन्स कंपनी उठाती है। कंपनी कितना खर्चा करेगी ये आपके हेल्थ प्लान और पालिसी की कंडिशंस पर निर्भर करता है।
  2. हेल्थ इन्शुरन्स पालिसी का प्रीमियम इतना ज्यादा नहीं होता की आप इसे न करवा सको। उदहारण के लिए अगर आपकी उम्र ३० साल से कम है और आपके परिवार में आपकी वाइफ और एक छोटा बच्चा है। ऐसे में अगर आप ३ लाख का इन्शुरन्स करना चाहते है तो आप को एक साल का ६००० से ७००० के लगभग का प्रीमियम भरना होगा मतलब महीने का ५०० से ६०० रुपये। अगर अगले ३ या ४ साल में कोई बीमार भी पड़ता है तब भी हॉस्पिटल का बिल आपके दवारा भरे हुए प्रीमियम से अधिक होगा।
  3. बाइक और कार के इन्शुरन्स हर कोई करवा लेता है पर कुछ लोग स्वास्थय बीमा पर पैसे लगना जरुरी नहीं समझते। अपने परिवार को फाइनैंशल और हेल्थ सिक्योरिटी देने के लिए हर किसी की हेल्थ इन्शुरन्स(Importance of Health Insurance) और टर्म प्लान लेना चहिये। हेल्थ इन्शुरन्स लेने पर आपको इनकम टैक्स में भी लाभ मिलता है।

मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से जोड़ना 1 Min मै [Step by Step]

How to Get Health Insurance | स्वास्थ्य बीमा कैसे प्राप्त करें

हमारे देश में ज्यादातर लोग हेल्थ इन्शुरन्स(Importance of Health Insurance) नहीं करवाते और जो करवाते है उनमे से भी बहुत से लोगो को स्वास्थय बीमा की ज्यादा जानकारी नहीं होती और इन्शुरन्स एजेंट पर विश्वास कर के पालिसी ले लेते है। बहुत से एजेंट ऐसे होते है जो आपके विश्वास का फायदा उठते है और आपको हेल्थ प्लान की पूरी जानकारी नहीं देते। जिस वजह से आपको बाद में परेशानी होती है। स्वास्थ्य बीमा लेने से पहले कुछ बातो का ध्यान रखना बहुत जरुरी है।

Importance of Health Insurance
Importance of Health Insurance
  1. इन्शुरन्स एजेंट आप को गलत जानकारी दे सकते है इसलिए अपने फॉर्म को खुद भरे और पालिसी से जुडी सभी कंडिशंस को ध्यान से पढ़ ले।
  2. बीमा में कई तरीके के हेल्थ प्लान होते है इसलिए अपनी परिवार की जरुरतो को देखते हुए प्लान का चुनाव करे और पालिसी के फीचर्स के बारे में ऑनलाइन रिसर्च भी करे।
  3. हेल्थ इन्शुरन्स करने वाली कम्पनीज ज्यादा प्रॉफिट बनाने के लिए कॉस्टमेर से पालिसी का प्रीमियम अधिक लेना चाह्ती है। किसी हेल्थ प्लान का प्रीमियम कितना होगा ये आप दवारा बतायी हुई जानकारी पर निर्भर करता है। कम उम्र में प्रीमियम कम होता है और उम्र बढ़ने के साथ साथ प्रीमियम भी बढ़ता जाता है।
  4. आप की पालिसी में कौन कौन सी बीमारिया शामिल नहीं है उसकी जानकारी ले और ये भी जाने कितने समय बाद इन बीमारियो को पालिसी में शामिल किया जा सकता है, क्योंकि कुछ बीमारिया ऐसी होती है जो पालिसी लेने के पहले २ साल तक पालिसी में शामिल नहीं की जाती इसलिए आपको उन बीमारियो की जानकारी होनी चाहिए।
  5. अगर किसी फॅमिली मेंबर को कोई बीमारी पहले से है तो उसे छुपाये नही। आजकल बीमारियो पर होने वाले खर्च को देखते हुए कम से कम ३ लाख तक का बीमा जरुर करवाए।

Mutual Fund Kya Hai in Hindi- Mutual Fund Me Invest Kaise Kare

Health Insurance Tips | हेल्थ इन्शुरन्स टिप्स 

  1. हेल्थ पालिसी लेने पर आप को एक कार्ड बना कर दिया जायेगा। जिससे आप कैश लेस ट्रीटमेंट का बेनिफिट ले सकेंगे, हॉस्पिटल में एडमिट होना पड़े तो उन्हें अपना पालिसी कार्ड दिखाए।
  2. जिस हॉस्पिटल में एडमिट हुए है अगर वह कैशलेस फैसिलिटी नहीं है तो एडमिट होने के १२ घंटे के अंदर कार्ड पर लिखे हुए नंबर पर कॉल करे और एडमिट होने की जानकारी दे ताकि आपको क्लेम करने में कोई परेशानी न आये।
  3. हेल्थ इन्शुरन्स क्लेम[Needs of Health Insurance] करते वक़्त सभी रिपोर्ट्स और डाक्यूमेंट्स की फोटोकॉपी अपने पास भी रखे। अगर आपको अपना इन्शुरन्स क्लेम करने में कंपनी की तरफ से पेमेंट देने में कोई परेशानी आ रही है तो आप कम्पनी को इसकी कंप्लेंट कर सकते है।
  4. Importance of Health Insurance और इसकी इम्पोर्टेंस तो आप समझ ही गये होंगे। इसलिए आप से यही सलाह है की अपनी जरूरत के हिसाब से सही पालिसी ले और कोई भी पालिसी लेने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी ले ताकि जरुरत के समय आप को कोई परेशानी न हो।

दोस्तो इस लेख(The Importance of Health Insurance या स्वास्थ्य बीमा का महत्व) के दवारा हमारा पर्यास यही है की हम आपको स्वास्थ्य बीमा की अहमियत को समझा सके ताकि आप हॉस्पिटल्स में होने वाले खर्चे की परेशानी से बच सके और आपको जरुरत पड़ने पर अच्छे से अच्छा ट्रीटमेंट मिले। हेल्थ इन्शुरन्स करने के लिए बीमार होने का इन्तजार न करे बल्कि समय रहते ही अपना स्वस्थय बीमा करवाए।

Give a Comment