C Language Kaise Sikhe in Hindi

C Language Kaise Sikhe in Hindi | C Language क्या है?

C Language Kaise Sikhe in Hindi: आज के समय में ज्यादातर फील्ड में computer की मांग बढ़ रही है। ऐसे में कंप्यूटर को लेकर लोगों की रुचि भी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। कंप्यूटर में कई सारे कोर्स उपलब्ध हैं जैसे – सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer), हार्डवेयर इंजीनियर (Computer Hardware Engineer) etc. इन कोर्सों में एक कोर्स बहुत ज्यादा popularity हासिल किए हुए है जो है कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Computer Programming Language). सी प्रोग्रामिंग कैसे सीखे 30 दिनों मैं

इसे आम बोलचाल की भाषा में हम कोडिंग भी कहते हैं। इसलिए चलिए जानते हैं सी लैंग्वेज (C Language Kaise Sikhe). आपको बता दें, कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए अनेक भाषाओं का इस्तेमाल किया जाता है जिनमें से मुख्य हैं – सी लैंग्वेज (C Language) , जावा लैंग्वेज (Java Language), सी प्लस प्लस (C++) इत्यादि।

C Language Kaise Sikhe
C Language Kaise Sikhe

अगर आप C Programming Language सीखना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको यह जानना होगा कि C Language क्या है?

C Language क्या है | What is C Programming Language

सी लैंग्वेज एक system programming language है। जिसकी मदद से आप फर्मवेयर, एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर का निर्माण कर सकते हैं। सरल शब्दों में कहा जाए, सी लैंग्वेज कंप्यूटर की एक भाषा है, जिसके द्वारा हम कंप्यूटर को निर्देश दे सकते हैं।

या फिर एक तरह से समझ लीजिए C Language एक coding है जिसके द्वारा कंप्यूटर समझ पाता है कि हम कंप्यूटर को क्या निर्देश दे रहे हैं। आपको बता दें, यह कंप्यूटर की सबसे सरल भाषा है। C Language Kaise Sikhe in Hindi.

Read: Hacker Kaise Bane- हैकर कैसे बने | हैकिंग के प्रकार

C Language Benefits | सी लैंग्वेज सीखने के लाभ

  1. यह एक High Level, स्ट्रक्चर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Structured Programming Language) है।
  1. यह बहुत ही Basic Language है जिस कारण इसे आप बहुत ही आसानी से सिख सकते हैं।
  1. यदि आपने C Language सिख लिया है तो आप आसानी से दूसरे कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख सकते हैं।
  1. सी लैंग्वेज सीखने के बाद आप कंप्यूटर के सिस्टम सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर दोनों बना सकते हैं। C Language Kaise Sikhe in Hindi.

Read: C Language Program for Practice.

सी लैंग्वेज सीखना क्यों जरूरी है? | Why C Language is Important

कई बार बहुतों के मन में यह प्रश्न उठता है कि जब इतने सारे computer language हैं तो C Language Kaise Sikhe in Hindi सीखना क्यों जरूरी है?

  1. C programming अन्य programming की तुलना में बहुत आसान होता है इसलिए इसका इस्तेमाल आमतौर पर initially system development काम के लिए किया जाता है और मुख्य रूप से इसे Operating System Programs लिखने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
  1. C programs बहुत ज्यादा portable होते हैं। इसके source code को बिना किसी बदलाव के एक Operating system में से दूसरे operating system में भी compile या run किया जा सकता है।
  1. C language को system development language के लिए ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि ये ऐसे code produce करता है जो कि बहुत ज्यादा fast run करते हैं। यही कारण है कि C language को बहुत से जगहों में इस्तेमाल किया जाता है जैसे –
  • Operating Systems
  • Language Compilers
  • Assemblers
  • Text Editors
  • Print Spoolers
  • Network Drivers
  • Modern Programs
  • Databases
  • Language Interpreters
  • Utilities

C Language Kaise Sikhe in Hindi जानने के लिए सबसे पहले आपको सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का बेसिक सीखना होगा।

C Language Kaise Sikhe in Hindi

अगर आप Beginner हो तो आपको सी लैंग्वेज को पूरा सीखने के लिए लगातार प्रयास करना होगा। साथ में आपको अपने कोडिंग को सुधारने के लिए भी रोजाना प्रैक्टिस करना होगा।

सी लैंग्वेज के कोडिंग के लिए आपको सिंटेक्स,  हैडर फाइल्स इत्यादि को सही से समझना होगा और इसका प्रयोग कहां पर किया जाता है, इसके बारे में भी सही जानकारी रखनी होगी।

सॉफ्टवेयर डाउनलोड करें | Download Software

C Language Kaise Sikhe in Hindi: आपको कोडिंग की प्रैक्टिस करने के लिए एक सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होगी। आपको इन्टरनेट पर कई सारे सॉफ्टवेयर मिल जायेंगे लेकिन सी लैंग्वेज के लिए सबसे ज्यादा पॉपुलर सॉफ्टवेयर Turbo C/C++ माना जाता है।

टर्बो सी (Turbo C) को डाउनलोड करके आप आसानी से सी लैंग्वेज के कोडिंग की प्रैक्टिस कर सकते हैं। आप जितना अधिक सॉफ्टवेयर पर अभ्यास करेंगे आपको बेसिक जानकारी उतनी ही जल्दी आ जाएगी।

जब आप सॉफ्टवेयर का प्रयोग करके कोई प्रोग्राम बनाकर run करेंगे तो जहां पर आपने गलती की होगी वहां पर error show करेगा। इस तरह से आप error समझ कर उसे हटाते जायेंगे जिससे बहुत ही जल्दी आपको सी लैंग्वेज आ जाएगी।

Data Types और Variable का Concept समझना

सी लैंग्वेज के बेसिक्स के बारे में जानकारी हासिल करने के बाद आपको वेरिएबल नेम (Variables name), सिंटेक्स (Syntax) व डेटा टाइप्स (Data Types) के विषय में जानकारी हासिल करनी होगी।

आपको बता दें, आप किसी भी डाटा को कंप्यूटर में ऐसे ही स्टोर नहीं कर सकते हैं, इसके लिए आपको डाटा का नाम और उसका टाइप डालना बहुत ही ज्यादा आवश्यक है। C Language Kaise Sikhe in Hindi.

ऐसे में आपको इन सभी कांसेप्ट को सही से समझना होगा। जब आपको इसकी जानकारी हो जाएगी तब ही आप किसी प्रोग्राम को बना सकते हैं।

Function और Keywords का प्रयोग करना

C Language Kaise Sikhe in Hindi में सिखने के लिए आपको कीवर्ड्स (Keywords) जैसे printf या scanf क्या है, इसका क्या प्रयोग क्या है। इसके अलावा %d , %f , %s क्या है, यह कब प्रयोग किया जाता है।

इन सभी कांसेप्ट को आपको सही से समझ में आना चाहिए ताकि आपको प्रोग्राम बनाने में कोई परेशानी न हो।

अब एक छोटा सा प्रोग्राम बनाएं

ऊपर बताए गए सभी बातें सिखने के बाद आप आसानी से कोई भी छोटा प्रोग्राम (चाहे वो हेल्लो वर्ल्ड का प्रोग्राम हो या दो नंबर को जोड़ने वाला प्रोग्राम हो) सी लैंग्वेज(C Language Kaise Sikhe) में बना सकते हैं।

Program for Addition of Two Numbers in C

#include <stdio.h>
/* Addition of Two Numbers in C*/
int main() 
{
  double first_number, second_number, sum; 
/* Input by User */
  printf("Enter the First Number: "); 
/* First Number Entered by User */
  scanf("%lf", & first_number);
  printf("Enter the Second Number: "); 
/* Second Number Entered by User */
  scanf("%lf", & second_number); 
/* Adding First and Second Number with Addition operator */
  sum = first_number + second_number; 
/* Printing the Sum of Both Numbers */
  printf("\nSum of %lf and %lf is = %lf\n", first_number, second_number, sum);
  return 0;
}

आप चाहें तो इन्टरनेट में C Language sample Program सर्च भी कर सकते हैं जिसके बाद आपको कई सारे प्रोग्राम मिल जायेंगे, जिन्हें आप प्रैक्टिस करके समझ सकते हैं।

अब एक C language की बुक खरीदें

C Language Kaise Sikhe के लिए आपको सबसे पहले टॉपिक वाइज प्रोग्राम बनाने पड़ेंगे तभी आप सी लैंग्वेज सीख पाएंगे। यदि आप सीखने के लिए इंटरनेट का प्रयोग करते हैं, तो आप इसे सही से समझ नहीं पाएंगे कि आपको कौन सा टॉपिक पहले सीखना है या फिर कौन सा टॉपिक बाद में सीखना है।

अगर आप बुक लेते हैं तो बुक में आपको यह सब टॉपिक वाइज दिख जायेगा। इसलिए पहले आप बुक के सभी प्रोग्राम सीख लें उसके बाद ही इंटरनेट का प्रयोग करें। इस प्रक्रिया से आप बहुत जल्द सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language Questions and answers) सीख पाएंगे।

हमें आशा है कि हमारा आर्टिकल C Language Kaise Sikhe आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा। आपके मन में आज के आर्टिकल सी लैंग्वेज (C Language Kaise Sikhe) के बारे में कोई भी doubt हो तो आप हमसे Comment Box में पूछ सकते हैं।

Give a Comment